भारत में हर साल देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी काफी संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं, जो यहां के पर्यटन स्थलों में खो जाते हैं। ऐतिहासिक इमारतों से लेकर हिल स्टेशन तक, हर एक चीज भारत की खूबसूरती को बढ़ाती है। उत्तराखंड की वादियों से लेकर राजस्थान के मैदानों और पुराने किलों तक को देखने के लिए काफी संख्या में पर्यटक यहां पहुंचते हैं। हालांकि, कोरोना काल होने की वजह से काफी समय तक पर्यटकों के घूमने पर पाबंदी थी, लेकिन अब फिर से पर्यटक अपनी पसंदीदा जगहों पर जाने लगे हैं। ऐसे में अगर आप भी घूमने के बारे में सोच रहे हैं और जगह को लेकर उलझन में है, तो चलिए हम आपको उड़ीसा के बारे में बताते हैं। जहां जाकर आप समुद्रीय तटों से लेकर दार्शनिक स्थलों तक पर जा सकते हैं और वो भी अपने परिवार संग।

धौली गिरि की पहाड़ियां

    उड़ीसा में अगर आप घूमने जा रहे हैं, तो धौली गिरि की पहाड़ियां देखने जाना तो बनता है। इस स्थान को बौद्ध तीर्थ स्थल के रूप में जाना जाता है। यहां आप सुकून के पल बिताने के अलावा बौद्ध की प्रतिमा और प्रसिद्ध शिव मंदिर के दर्शन भी कर सकते हैं।

सिमलीपाल नेशनल पार्क

    सिमलीपाल नेशनल पार्क अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है और ये उड़ीसा के मयुरभंज जिले में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान है। यहां आपको बंगाली शेर से लेकर खूबसूरत पानी का झरना देखने को मिलेगा।

कोणार्क सूर्य मंदिर

    उड़ीसा में स्थित कोणार्क सूर्य मंदिर यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की लिस्ट में शामिल है। भगवान सूर्यनारायण के इस मंदिर के दर्शन करने देश ही नहीं विदेशों से भी भारी संख्या में लोग पहुंचते हैं।

इन जगहों पर भी जा सकते हैं आप

    उड़ीसा में आप पुरी में स्थित जगन्नाथ मंदिर, भुवनेश्वर में स्थित लिंगराज्य मंदिर और चिल्का झील भी जा सकते हैं। इन सभी जगहों पर पर्यटक काफी संख्या में पहुंचते हैं।